ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
भारत के सैलून्स के लिए ‘बैक टू बिज़नेस’ सुरक्षा दिशा निर्देश
May 29, 2020 • नूरुद्दीन अंसारी • राष्ट्रीय

नई दिल्ली : लोरिआल इंडिया ने भारत के सैलून्स के लिए हाइजीन की रूपरेखा एवं परिचालन संबंधी दिशानिर्देश विकसित किए हैं, जो उन्हें कारोबार फिर से आरंभ करने में सहायक गाईड की तरह होंगे । लोरिआल हेयरड्रैसर्स को सैलून में सुरक्षा और सैनिटेशन के उपाय अपनाने में मदद करेगा , मास्क, सैनिटाइज़र और इन नए विकसित संचालन दिशानिर्देशों को प्रदान करेगा, ताकि हेयरड्रैसर्स खुद, और उनके क्लाइंट्स , सुरक्षित रह सकें ।पेशेवर सौन्दर्य के क्षेत्र में 110 साल से अधिक के अनुभव के साथ, लोरिआल उद्योग जगत में पार्टनर एवं एडवोकेट की भूमिका निभाने के लिए प्रतिबद्ध है।  

‘बैक टू बिज़नेस’ हाइजीन एवं सुरक्षा गाईड, लॉकडाउन के प्रतिबंध हटाए जाने से पहले, 45,000 सैलून्स नेटवर्क और 170,000 से अधिक हेयरड्रैसर्स में वितरित की जाएगी। लॉकडाउन के प्रतिबंध हटाए जाने के बाद की स्तिथी में, सहायक गाईड में शामिल सलाह , उपभोगताओं एवं कर्मचारियों की सुरक्षा और हित को सुनिश्चित करने में सहायक होंगे; सुरक्षित संचालन की कार्यप्रणाली के तहत हाथों की सफाई, टूल्स का डिस्इन्फेक्शन, सैलून रूटिंग, प्री-बुकिंग , अपॉइंटमेंट्स के बीच जगह रखने के लिए  सैलून्स की पुनर्व्यवस्था तथा इलेक्ट्रॉनिक भुगतान जैसे उपाय शामिल हैं, जो सोशल डिस्टैन्सिंग सुनिश्चित करने में सहायक होंगे। ये दिशानिर्देश अब लोरिआल प्रोफेशनल प्रोडक्ट ब्राण्ड्स जैसे लोरिआल प्रोफेश्नल, मैट्रिक्स, केरास्तास और शैरिल्स कॉस्मोस्युटिकल्स के सभी सैलून पार्टनर्स और हेयरड्रैसर्स के लिए उपलब्ध होंगे।

ऐसे समय में जब हेयरड्रैसर्स का काम अस्थायी रूप से बंद है, लोरिआल प्रोफेशनल प्रोडक्ट्स डिविज़न, सक्रिय रहा है, हेयरड्रैसर्स को विस्तृत ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रदान करने में, ताकि हेयरड्रैसर्स की स्किल्स नवीनतम रहे और वे अपने क्लाइंट्स के लिए प्रत्यक्ष रहें। इस अवधि में 50,000 से अधिक हेयरड्रैसर्स एवं ब्यूटीशियन्स के लिए 4250 से अधिक ई-प्रशिक्षण सत्र आयोजित किए जा चुके हैं। लोरिआल इंडिया ने लॉकडाउन की अवधि के लिए अपने सभी वितरकों तथा प्रत्यक्ष सैलून पार्टनर्स के लिए क्रेडिट विस्तार की घोषणा भी की है।

अमित जैन, एमडी, लोरिआल इंडिया ने कहा, ‘‘हेयरड्रैसिंग उद्योग रोज़गार का मुख्य स्रोत है और हेयर सैलून्स के लिए ज़रूरी है कि वे लॉकडाउन के प्रतिबंध हटाए जाने के बाद पूरी सुरक्षा के साथ अपने कारोबार का संचालन दोबारा शुरू करें। पिछले कुछ महीनों में हमने हेयरड्रैसर के महत्व को और भी ज्यादा समझा है, और उपभोगताओं द्वारा हेयर सैलून्स फिरसे खोलने की उच्च मांग है।

डी.पी. शर्मा, डायरेक्टर, प्रोफेशनल प्रोडक्ट्स डिविज़न ने कहा, ‘‘भारत में लोरिआल प्रोफेशनल प्रोडक्ट्स डिविज़न के 170,000 से अधिक हेयर ड्रैसर पार्टनर्स हैं, जो 45,000 से अधिक सैलून्स में कार्यरत हैं। हम इस चुनौतीपूर्ण समय में उपभोक्ताओं, पार्टनर्स सैलून एवं उनके कर्मचारियों की सुरक्षा को सुनिश्चित रखने हेतु अपने सैलून पार्टनर्स की मदद करने के लिए प्रयासरत  हैं। हम हेयर ड्रैसिंग उद्योग में पार्टनर एवं एडवोकेट के रूप में अपनी भूमिका को लेकर, अब और भी प्रतिबद्ध हैं और आने वाले समय में उन पर इस संकट का प्रभाव कम करने के लिए निरंतर प्रयास करते रहेंगे।’

रैडक्वांटा द्वारा किए गए सर्वेक्षण के अनुसार, सैलून विज़िट उन उच्चतम 3 गतिविधियों में से हैं, जिसकी कमी लोगों ने महसूस की, 56 फीसदी लोग सैलून ना जा पाने की कमी को महसूस कर रहे हैं।

गत सालों के दौरान, लोरिआल ने सक्रिय रूप से भारत के गतिशील  हेयरड्रैसिंग सेक्टर में योगदान दिया है। प्रशिक्षण एवं शिक्षा उद्योग जगत का आधार है और लोरिआल इन प्रमुख क्षेत्रों में निरंतर निवेश करता रहा है, सैलून्स के अपग्रेडेशन हेतु अपने उत्कृष्ट प्रोडक्ट के साथ उपभेाक्तओं को बेहतरीन अनुभव प्रदान करने के लिए तत्पर है, साथ ही हेयरड्रैसर्स को अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने के लिए इण्डियन हेयरड्रैसिंग अवार्ड जैसे प्लेटफॉर्म प्रस्तुत करता रहा है। लोरिआल इंडिया ने पिछले 10 सालों में एक मिलियन से अधिक हेयरड्रैसर्स को प्रशिक्षण दिया है और अपने ब्राण्ड्स लोरिआल प्रोफेशनल, मैट्रिक्स, केरास्तास एवं शैरिल्स कॉस्मोस्युटिकल्स के माध्यम से 45,000 से अधिक सैलून्स के साथ साझेदारी कर चुका है।