ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
जीन्स2मी ने 7 दिनों की रिकॉर्ड अवधि के अंदर सरकार को 2.5 लाख रैपिड टेस्ट किट दिए
April 18, 2020 • नूरुद्दीन अंसारी • राष्ट्रीय

नई दिल्ली : नोवल कोरोनावायरस के खिलाफ़ भारत की लड़ाई में योगदान देने और इसे सशक्त बनाने के प्रयास में भारत की एक अग्रणी डायनॉस्टिक्स कंपनी जीन्स2मी प्राइवेट लिमिटेड ने 7 दिनों की रिकॉर्ड अवधि में 2.5 लाख कोविड-19 IgG/IgM एंडीबॉडी रैपिट टेस्ट किट डिलीवर किए हैं। भारत सरकार से आपूर्ति के लिए ऑर्डर मिलने के तुरंत बाद कंपनी ने सफलतापूर्वक यह डिलीवरी दी है।

जीन्स2मी ने झुहाई लिवज़ोन डायग्नॉस्टिक्स इंक, चीन के सथ साझेदारी की थी, जिसने कोविड-19 IgG/IgM एंटीबॉडी रैपिट टेस्ट किट विकसित की है, जिसे CE-IVD, NMPA और ICMR से मान्यता प्राप्त है। यह जांच IgG/IgM एंटीबॉडी के लिए अलग से परिणाम देती है। यह किट न केवल हाल ही में कोविड-19 के लिए एक्सपोज़र को बताती है बल्कि इन्फेक्शन की अवस्था के बारे में भी जानकारी देती है, साथ ही नेगेटिव- पॉज़िटिव परिणामों पर निगरानी रखने में मदद करती है। इस टेस्ट के लिए अलग से किसी विशेष उपकरण की ज़रूरत नहीं होती। इसे इस्तेमाल करना बेहद आसान है और यह 99फीसदी सटीकता के साथ 15 मिनट में परिणाम देती है।

रैपिड टेस्ट किट के बारे में बताते हुए मिस रितु गुप्ता,सीओओ, जीन्स2मी प्रा. लिमिटेड ने कहा, ‘‘जीन्स2मी का यह प्रयास कोरोना वायरस के विश्वस्तरीय संकट से लड़ने की दिशा में महत्वपूर्ण है। भारत में 12000 से अधिक कोरोनो पॉज़िटिव मामले दर्ज किए जा सके हैं, ऐसे में बड़े पैमाने पर कोविड-19 की जांच करना अनिवार्य हो गया है। यह रैपिड टेस्ट किट कम समय में कोविड-19 के लिए ज़्यादा लोगों की स्क्रीनिंग कर सकती है, जिससे देश में कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने में मदद मिलेगी। हम आईसीएमआर, बीजिंग में भारतीय दूतावास, विभिन्न सरकारी विभागों के अधिकारियों और डीसीजीआई के प्रति आभारी हैं।’ 

कोविड-19 के लिए चीन में पहले एंटीबॉडी टेस्ट का लान्च जनवरी 2020 में वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलोजी और लिवज़ोन डीएक्स द्वारा किया गया। जीन्स2मी को हाल ही में भारत में इस किट के बिक्री और विपणन के लिए डीसीजीआई से अनुमोदन मिला है और यह पहले से भारत सरकार और एम्स को 2.5 लाख किट की आपूर्ति कर चुका है। 

कंपनी भारत में बड़ी संख्या में टेस्ट किट उपलब्ध कराने के लिए काम कर रही है, ताकि कोरोनावायरस की तीव्र जांच को सुनिश्चित किया जा सके। अगले सप्ताह तक तकरीबन 5-6 लाख और किट उपलब्ध होंगे। इसके अलावा कंपनी मई के महीने में 3 मिलियन से अधिक किट उपलब्ध कराएगी। डीसीजीआई के निर्देशों के अनुसार, कोविड-19 की जांच के लिए टेस्ट किट, आईसीएमआर और भारत सरकार के निर्देशों के अनुरूप इस्तेमाल किए जाएंगे।