ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
केरल के सुदूर मल्लापुरम में फंसे निज़ामाबाद,आजमगढ़ के मजदूरों को भेजने की अपील
May 8, 2020 • क़ुतुब मेल • राष्ट्रीय

लखनऊ - रिहाई मंच ने केरल के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर आजमगढ़ के निज़ामाबाद के छियासी मजदूर जो लॉक डाउन में मल्लापुरम में फसे हैं की घर वापसी सुनिश्चित करने की मांग की है. मंच ने कहा कि विभिन्न प्रदेशों में सुदूर क्षेत्रों में पूर्वांचल के मजदूर फसे हैं. केरल प्रशासन ने आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन रिहाई मंच को दिया है.

कोरोनो महामारी से निपटने के प्रयासों के लिए धन्यवाद देते हुए रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव ने पत्र में बताया है कि निज़ामाबाद, आजमगढ़ के अजय यादव ने रिहाई मंच से संपर्क कर अवगत कराया कि वे और उनके 86 साथी केरल के जनपद मल्लापुरम के तिरुर में कांजराकोल में हैं। सभी टाइल्स मार्बल के काम में मजदूर हैं। इनके साथ तीन महिलाएं भी हैं। कोरोना महामारी की वजह से लंबे लाक डाउन की स्थिति में यह सभी अपने गृह जनपद आजमगढ़ आना चाहते हैं। इन सभी को जब मालूम चला कि घर वापसी के लिए तिरुर थाने में रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही है तो वे वहां गए जहां उन्हें केरल पुलिस कोविड 19 माइग्रेंट लेबर आइडेंटी कार्ड जारी किया है। पूछने पर कि गाड़ी कब आएगी उनको कोई कन्फर्म सूचना नहीं मिली।

कोरोना महामारी के दौर में पूरे देश में मजदूर भाई परेशान हैं ऐसी स्थिति में रिहाई मंच ने गुजारिश की है कि उन्हें कब वहां से कैसे उनके गृह जनपद भेजा जाएगा अगर इसकी सूचना उनको हो जाए तो उनको सुकून मिलेगा।