ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
कोरोना योद्धाओं को सलामी देने के लिए भारतीय वायु सेना द्वारा फ्लाई पास्ट
May 3, 2020 • क़ुतुब मेल • राष्ट्रीय

नयी दिल्ली - भारतीय वायु सेना ने 3 मई  को दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में अपने कई विमानों के साथ फ्लाई पास्ट करने की योजना है। इस उड़ान गतिविधि में आईएएफ की प्रशिक्षण गतिविधि को शामिल किया गया है और इसमें ऐसे परिवहन विमान और हेलिकॉप्टर शामिल होंगे, जो कोविड-19 से संबंधित आपूर्ति में उपयोग किए जाते रहे हैं।

कोरोना योद्धाओं के लिए यह हवाई सलामी दिल्ली के आसमान पर सुबह 10-10.30 बजे के बीच देने की योजना है। लड़ाकू विमान संयोजन राजपथ और दिल्ली के ऊपर से उड़ान भरेगा, जिसे दिल्ली के नागरिक अपनी छत से देख सकेंगे। इस परेड में सुखोई-30 एमकेआई, मिग-29 और जगुआर जैसे विमान शामिल होंगे। इसके अलावा, सी-130 परिवहन विमान भी लड़ाकू विमानों की तरह ही दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में प्रदर्शन करेंगे। अनुमानित रूप से विमान हवाई सुरक्षा विशेषकर पक्षियों से संबंधित गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए 500 मीटर से 1,000 मीटर की ऊंचाई तक उड़ान भरेंगे।

इसके अलावा हेलिकॉप्टरों के माध्यम से सुबह 9.00 बजे पुलिस युद्ध स्मारक और उसके बाद कोविड-19 के उपचार में लगे दिल्ली के अस्पतालों पर 10-10.30 बजे के बीच पुष्प वर्षा करने की योजना है। अस्पतालों की इस सूची में एम्स, दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, लोकनायक अस्पताल, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल, श्री गंगा राम अस्पताल, बाबा साहब अम्बेडकर अस्पताल, मैक्स अस्पताल, रोहिणी अस्पताल, अपोलो इंद्रप्रस्थ अस्पताल और आर्मी हॉस्पिटल रिसर्च एंड रेफरल शामिल हैं।

कोरोना योद्धाओं की सहायता से भारत कोरोना वायरस के खिलाफ सफलतापूर्वक लड़ाई कर रहा है। भारतीय वायु सेना (आईएएफ) अंतरराष्ट्रीय और घरेलू स्तर पर पुरुषों और सामग्री की आपूर्ति में सहायता देकर कोरोना की रोकथाम की दिशा में हो रहे देश के प्रयासों में योगदान कर रही है। 600 टन से ज्यादा चिकित्सा सामानों की आपूर्ति और चिकित्सकों, चिकित्सा सहायकों और कोविड परीक्षण प्रयोगशालाओं की स्थापना के लिए उपकरणों आदि को हवाई माध्यम से पहुंचाया गया है। आईएएफ कर्मचारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आगे भी योगदान करते रहेंगे।