ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
नेहरू जयन्ती ‘‘मेरा गांव-मेरा गौरव’’ दिवस केे रूप में  मनाया जाएगा ः सचिन पायलट
October 31, 2019 • अशोक चतुर्वेदी • राष्ट्रीय

"राजस्थान न केवल देश अपितु विश्व में अपने इतिहास, गौरवशाली परम्पराओं, संस्कृति, साहित्य, संगीत, कला, स्थापत्य एवं पुरातत्व के लिए प्रसिद्व है एवं इसका साक्षात अनुभव करने बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक राज्य के भ्रमण पर आते हैं । राज्य के गांवों में अद्भुत ऎतिहासिक, सांस्कृतिक एवं पुरातात्विक धरोहर मौजूद है तथा राज्य का प्रत्येक गांव किसी न किसी धर्मस्थल, प्राकृतिक स्थल, सरोवर, बावड़ी, हस्तशिल्प, हस्तकला, खाध सामग्री इत्यादि के लिये जाना जाता है इन सबके गौरव की अनुभूति ग्रामवासियों को करवाने के लिये पण्डित नेहरू की जयन्ती के मौके पर ''मेरा गांव-मेरा गौरव'' दिवस मनाया जायेगा"

जयपुर। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग द्वारा 14 नवम्बर को देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की जयन्ती के मौके पर प्रदेश के सभी ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर ''मेरा गांव-मेरा गौरव'' दिवस समारोहपूर्वक मनाया जाएगा। 

उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि पं. जवाहर लाल नेहरू के जन्म दिवस को उल्लासपूर्वक मनाने के लिये राज्य के सभी जिला कलक्टर्स एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को विस्तृत दिशा-निर्देश दिये गये हैं। 

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि 14 नवम्बर को सभी ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर प्रातः 7 बजे से स्वच्छता श्रमदान उत्सव, पूर्वान्ह में ''मेरा गांव मेरा गौरव'' दिवस विषय पर आशुभाषण, चित्रकला, निबन्ध एवं कविता पाठ का आयोजन किया जाएगा। इसी प्रकार अपरान्ह् खेलकूद कार्यक्रम एवं रात्रि में स्थानीय विद्यालय एवं कलाकारों द्वारा राज्य से संबंधित सांस्कृतिक क्षेत्र और संदर्भित ग्राम की परम्परा और विरासत पर केन्दि्रत सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा।

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि ''मेरा गांव मेरा गौरव'' दिवस मनाने का उद्देश्य ग्रामवासियों के मन में गौरव भावना जाग्रत करना, गांव की ऎतिहासिक, धार्मिक, पुरातात्विक एवं प्राकृतिक विरासत यथा गोचर भूमि, जलाशय आदि का संरक्षण एवं विकास सुनिश्चित करने तथा जातिवाद, सांप्रदायिकता एवं कुरीतियों के विरूद्ध जन चेतना जाग्रत कर आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं राजनीतिक दृष्टि से एक समरस समाज का निर्माण करने का है। उन्होने बताया कि ''मेरा गांव-मेरा गौरव'' दिवस के अवसर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को प्रमाण-पत्र वितरण किये जाएंगे।