ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
ऊबर के ड्राइवरों को रु 25 करोड़ के राहत पैकेज में से अनुदान मिलना शुरू
April 10, 2020 • नूरुद्दीन अंसारी • अंतर्राष्ट्रीय

गुरूग्राम : ऊबर प्लेटफॉर्म के ड्राइवर पार्टनर्स को ऊबर द्वारा अग्रणी सामाजिक उद्यमों गिव इंडिया एवं संहिता के सहयोग से ऊबर केयर ड्राइवर फंड में जमा की गई रु 25 करोड़ की राशि में से अनुदान मिलना शुरू हो गया है। ऊबर केयर ड्राइवर फंड रोज़ाना हज़ारों ड्राइवर पार्टनर्स और उनके परिवार की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए उनके खातों में अनुदान राशि स्थानान्तरित कर रहा है। ऊबर ने अपने अग्रणी क्राउडफंडिंग संगठन मिलाप के साथ साझेदारी में अपने कर्मचारियों, राइडर, सीएसआर फंड एवं नागरिकों से रु 25 करोड़ की अतिरिक्त राशि जुटाकर कुल रु 50 करोड़ तक पहुंचने का लक्ष्य तय किया है, इस धनराशि का इस्तेमाल ऊबर प्लेटफॉर्म पर ड्राइवर पार्टनर्स के कल्याण के लिए किया जाएगा।

अब तक कुछ ही घण्टों में ऊबर कर्मचारियों ने ज़बरदस्त उत्साह का प्रदर्शन किया है और रु 17 लाख का योगदान दे चुके हैं। ड्राइवर पार्टनर्स के अलावा इस धनराशि का इस्तेमाल ऊबर मेडिक, ऊबर असेन्शियल्स एवं ऊबर के लास्ट माइल डिलीवरी सर्विस ड्राइवरों के लिए भी किया जाएगा, जो हाल ही में फ्रंटलाईन कर्मियों को परिवहन सेवाएं प्रदान कर रहे हैं तथा देश भर में कोविड-19 महामारी के दौरान बुजु़र्गों को परिवहन सेवाए उपलब्ध करानेे और हज़ारों घरों तक रोज़मर्रा का ज़रूरी सामान पहुंचाने में मदद कर रहे हैं।

इस अवसर पर प्रदीप परमेस्वरन, प्रेज़ीडेन्ट, ऊबर इण्डिया और साउथ एशिया ने कहा, ‘‘ड्राइवर पार्टनर्स हमारे कारोबार का आधार है, मैंने हमेशा कहा है कि ड्राइवरों के बिना ऊबर का अस्तित्व नहीं है। ड्राइवर समुदायों को इस समय में सहयोग प्रदान करना बेहद महत्वपूर्ण है। हमें उम्मीद है कि यह यह आर्थिक सहायता ड्राइवरों और उनके परिवारों के लिए इस मुश्किल समय में फायदेमंद होगी और उनकी रोज़मर्रा की ज़रूरतों को पूरा करने में मदद करेगी। आगामी सप्ताहों में हम पहले धनराशि जुटाएंगे, इसके बाद ड्राइवर पार्टनर्स को ऊबर केयर ड्राइवर फंड में से अनुदान देंगे। आज मैं अपने राइडरों, कोरपोरेट साझेदारों, परोपकारियों एवं आम जनता से आग्रह करता हूं कि हमारे इन प्रयासों के लिए हमें सहयोग प्रदान करें।’’

अगले कुछ दिनों में ऊबर एक हॉस्पिटल कैश इंश्योरेन्स पॉलिसी भी पेश करने जा रहा है जो ड्राइवर पार्टनर्स के लिए फायदेमंद होगी और उन्हें कोविड-19 एवं अन्य बीमारियों के लिए 14 दिन तक का कवरेज देगी, जिसमें अस्पताल में भर्ती होनेे की ज़रूरत पड सकती है। इसके अलावा हाल ही के सप्ताहों में ऊबर द्वारा ड्राइवरों की मदद के लिए निम्नलिखित घोषणाएं भी की हैंः ईएमआई में राहतः ऊबर विनियामकों एवं ऋण प्रदाताओं के साथ बातचीत के द्वारा सुनिश्चित करेगा कि आरबीआई के निर्देशों के अनुरूप ड्राइवरों को जल्द से जल्द ईएमआई में राहत मिले। ऊबर केयर माइक्रो क्रेडिटः ऊबर अपने माइक्रो-क्रेडिट पार्टनर्स के साथ मिलकर इस दिशा में काम कर रहा है कि अगले दो महीनों में भुगतान में देरी या ऋण संबंधी किसी दोष के चलते ड्राइवरों पर किसी तरह का जुर्माना न लगाया जाए।

एक्सएलआई के लिए लीज़ रेंटल में छूटः एक्सएलआई (एक ऊबर ग्रुप कंपनी) ने अगली सूचना तक के लिए रेंटल भुगतान में छूट दी है। निःशुल्क मेडिकल कन्सलटेशनः डोक्सऐप के साथ साझेदारी में ऊबर ड्राइवर पार्टनर्स एवं उनके परिवारों को डॉक्टरों की ओर से अनलिमिटेड निःशुल्क कन्सलटेशन की सुविधा प्रदान कर रहा है, इसके अलावा वे दवाओं पर 20 फीसदी छूट तथा देश की किसी भी लैब में जांच पर 40 फीसदी छूट का लाभ उठा सकते हैं। ऊबर कमीशन्सः ऊबर, ऊबर मेडिक एवं सभी ऊबर डिलीवरी सर्विस ड्राइवर पार्टनर्स से कोई कमीशन नहीं ले रहा है, उन्हें बिल की राशि का 100 फीसदी भुगतान किया जा रहा है। वे लोग जो ऊबर केयर ड्राइवर फंड में योगदान देना चाहते हैं, वे यहां क्लिक करें। सभी दानदाताओं को मौजूदा कानून के मुताबिक 80ळ के तहत कर में छूट मिलेगी।