ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
रिलायंस की बदौलत निफ्टी 9250 के ऊपर बंद हुआ; सेंसेक्स में 199 अंकों की उछाल
May 10, 2020 • अमर देव सिंह • बिज़नेस

रिलायंस की बदौलत निफ्टी 9250 के ऊपर बंद हुआ; सेंसेक्स में 199 अंकों की उछाल। अमर देव सिंह, हेड एडवायजरी, एंजिल ब्रोकिंग लिमिटेड। भारतीय शेयर बाजार पॉजीटिव नोट पर बंद हुए क्योंकि निफ्टी 52.45 अंक या 0.57% बढ़कर 9251.50 पर बंद हुआ, और सेंसेक्स 199.32 अंक या 0.63% बढ़कर 31642.70 पर बंद हुआ। इंट्रा-डे रैली का एक बड़ा हिस्सा रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा समर्थित था, जो रिलायंस जियो में विस्टा इक्विटी पार्टनर्स के 11,367 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा करने के बाद लगभग 5 प्रतिशत बढ़कर 1,579.70 रुपये पर पहुंच गया।

फार्मा, एफएमसीजी, एनर्जी, आईटी और इंफ्रा स्पेस की वजह से बाजार में इंट्राडे सेशन में जोरदार रैली देखने को मिली। दूसरी ओर ऑटो, बैंक और मेटल जैसे सेक्टरों में बिकवाली का दबाव देखा गया। बाजार विशेषज्ञों का पूर्वानुमान है कि निफ्टी के लिए 9,450 पर मजबूत प्रतिरोध है और नीचे की ओर 9,130-9100 स्तर पर मजबूत समर्थन है।
इंट्राडे सेशन के दौरान टॉप गेनर्स में 4.89 प्रतिशत पर एचयूएल, 3.85 प्रतिशत पर नेस्ले, 3.84 प्रतिशत पर टेक महिंद्रा, 3.81 प्रतिशत पर डॉ. रेड्डी लैब्स और 3.72 प्रतिशत पर सन फार्मा शामिल हैं। दूसरी ओर, एक्सिस बैंक -3.85 प्रतिशत, एनटीपीसी -3.81 प्रतिशत, एमएंडएम -3.48 प्रतिशत, इंडसलैंड बैंक -3.08 प्रतिशत, और एसबीआई -2.40 प्रतिशत, आज के सत्र से टॉप लूजर्स थे।

आज के कारोबारी सत्र के अंत में कंपनी के कमजोर राजस्व वृद्धि की घोषणा के बाद साइंट के शेयरों ने 10 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की। बीएसई के 263 शेयरों ने आज इंट्रा-डे सेशन में अपर सर्किट को हिट किया। फ्यूचर रिटेल, वक्रांजी, इंफीबीम, रुचि सोया, फ्यूचर लाइफस्टाइल और एडिलवाइज फाइनेंशियल ने इंट्राडे सेशन में अपर सर्किट हिट किया। डॉ. रेड्डीज लैब्स, वीनस रेमेडीज और उत्तम वैल्यू स्टील जैसे स्टॉक्स ने बीएसई पर 52 सप्ताह का नया रिकॉर्ड बनाया। वोडाफोन आइडिया, लौरस लैब्स, आरबीएल बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, यस बैंक, इंडसइंड बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, और रिलायंस इंडस्ट्रीज, अन्य के साथ आज आज के सत्र में वॉल्यूम के लिहाज से सबसे सक्रिय शेयरों की श्रेणी में शामिल हैं।

क्रूड ऑइल फ्यूचर में 1.31% की तेजी 8 मई को कच्चे तेल का बाजार 1,858 रुपए प्रति बैरल था क्योंकि प्रतिभागियों ने अपनी लॉन्ग पोजिशन बढ़ाया। सऊदी अरब द्वारा जून डिलीवरी के लिए कच्चे तेल की कीमत बढ़ाने के बाद कच्चे तेल की कीमत उछल गई। डॉलर इंडेक्स में गिरावट से दिन के लिए कच्चे तेल में पॉजीटिव ट्रेड को बढ़ावा मिल रहा है। दोपहर के कारोबार में सिल्वर फ्यूचर्स में 0.79% की बढ़त प्रतिभागियों ने अपनी लॉन्ग पोजिशन को विस्तार दिया और 8. मई को चांदी की कीमतें 43,457 रुपये प्रति किलोग्राम को छू गई। एमसीएक्स पर 43,494 रुपये का इंट्रा डे उच्च स्तर और एमसीएक्स पर 43,101 रुपये प्रति किलोग्राम के निम्न स्तर को सिल्वर फ्यूचर की जुलाई डिलीवरी के लिए दर्ज किया गया था। सिल्वर फ्यूचर्स में सकारात्मक गति बनी हुई है, जो इसे निवेशकों के लिए मनचाहा निवेश बनाती है।