ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस मनोरंजन साहित्य खेल वीडियो
स्कॉडा ऑटो फोक्सवैगन इंडिया के कर्मचारियों ने वेंटिलेटर्स और PPE किट्स के लिए रु. 1.2 करोड़ का योगदान किया
May 13, 2020 • नूरुद्दीन अंसारी • राष्ट्रीय

पुणे : स्कॉडा ऑटो फोक्सवैगन इंडिया द्वारा इससे पहले दिए गए रु. 1 करोड़ के योगदान के अलावा, पुणे और औरंगाबाद में लेबर यूनियनों के सहयोग से कंपनी के कर्मचारियों ने रु. 1.2 करोड़ से अधिक जुटाने के लिए अपना एक दिन का वेतन दान किया। जमा की गई राशि से सभी विशेषताओं वाले 15 वेंटिलेटर, 15 मॉनिटर और मुंबई, पुणे एवं औरंगाबाद के Covid -19 अस्पतालों के लिए 3750 PPE किट्स के लिए ख़र्च की जायेगी।

इसके अलावा, कंपनी ने खेड़ और भोसरी नामक गाँवों में ज़रूरतमंद परिवारों को 21 टन सूखा राशन बाँटा है और ससून जनरल हॉस्पिटल को रु. 22.34 लाख मूल्य की अतिरिक्त ज़रूरी दवायें दान की हैं। एस.ए.वी.डब्ल्यू.आई.पी.एल. ने दोबारा इस्तेमाल किए जा सकने वाले चेहरे के शील्ड्स बनाने के लिए अपने चाकन और औरंगाबाद के कारखानों और इंजीनियरों के हुनर का लाभ उठाना जारी रखा। इस ग्रुप ने औरंगाबाद, बीड, लातूर और पुणे के अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने वाले कर्मचारियों को चेहरे के 12,000 शील्ड्स बाँटे हैं। इसके अलावा,

एस.ए.वी.डब्ल्यू.आई.पी.एल. के इंजीनियर Covid-19 के मरीज़ों का इलाज कर रहे स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने वाले कर्मचारियों की मदद करने के लिए कंटीन्यूअस पॉज़िटिव एयरवे प्रेशर (CPAP) डिवाइसेस, Automatic AMBU Bags, इंट्यूबेशन बॉक्सेज़ और रेट्रो फिटेड फ़िल्टर्ड ऑक्सीजन मास्क बनाने के लिए के दुनिया भर के विशेषज्ञों के साथ काम मिलकर काम कर रहे हैं।

इससे पहले, एस.ए.वी.डब्ल्यू.आई.पी.एल. ने पुणे के ससून जनरल हॉस्पिटल में 1100-बिस्तरों वाली विशेष COVID-19 सुविधा स्थापित करने की दिशा में आर्थिक सहायता देने का प्रण लिया था। दिए गए इस योगदान ने COVID-19 से लड़ने वाली चिकित्सकीय टीम और रोगियों के लिए ज़रूरी चिकित्सा में उपभोग की जानेवाली सामग्रियों और देखभाल के अहम उपकरणों की ज़रूरत को भी पूरा किया है। इस ग्रुप ने पुणे, औरंगाबाद और मुंबई के अस्पतालों को 35,000 से अधिक सैनिटाइज़र भी दान किए, और औरंगाबाद क्षेत्र में 50,000 से अधिक भोजन के पैकेट्स बाँटे। यह दान देने वाली संस्थाओं, नगर पालिकाओं और स्वयंसेवकों को अपनी अनेकों गाड़ियों का इस्तेमाल करने देकर दवाओं और भोजन बाँटने में भी मदद कर रहा है।

सीएसआर गतिविधियों के अलावा, अपने ब्रांड्स के ज़रिए एस.ए.वी.डब्ल्यू.आई.पी.एल. लॉकडाउन के दौरान सुरक्षित दूरी बनाए रखना, घर में रहना और गाड़ियों को सुरक्षित रखने के सुझावों जैसी ज़रूरी बातों का समर्थन करती रही है। स्कॉडा ऑटो, फोक्सवैगन और ऑडी ने शटडाउन के दौरान समाप्त होने वाली वारंटी को बढ़ाने की पेशकश की है। लेम्बोर्गिनी और पोर्श ने अपने सामाजिक दर्शकों के साथ एक दिलचस्प संबद्धता अभियान की पेशकश की है। इस कंपनी ने अपने डीलरशिप के माध्यम से देश के अलग-अलग हिस्सों में इमरजेंसी गाड़ियों के लिए स्वच्छता अभियान भी चलाया है और आपातकालीन व्यक्तियों के लिए सेवा का सहयोग प्रदान किया है।